अजूबा! दो मंजिला मकान नींव समेत दूसरी जगह शिफ्ट

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

देवकली। वाकई यह अजूबी खबर है। एक दो मंजिला मकान नींव समेत करीब 40 फीट पीछे शिफ्ट कर दिया गया। खांवपुर गांव में हाइवे किनारे यह मकान नंदलाल यादव का है। वह मकान फोर लेन के लिए अधिग्रहित भूमि में था। फोर लेन के निर्माण के लिए मकान को ध्वस्त करना पड़ता लेकिन उन्हें पता चला कि मकान को साबूत दूसरी जगह शिफ्ट करने का काम देवरिया की एक कंपनी करती है।

डेढ़ माह पूर्व नंदलाल ने कंपनी के संचालक राधेश्याम से संपर्क किया। राधेश्याम की कंपनी मकान को शिफ्ट करने में जुट गई। अब यह काम अंतिम चरण में है। कंपनी के संचालक राधेश्याम ने बताया अब तक उनकी कंपनी लगभग 250 मकानों को नींव से उठाकर दूसरे स्थान पर सफलता पूर्वक स्थापित कर चुकी है। उनका दावा है कि मकान को दूसरे स्थान पर स्थापित करने के दौरान न तो दीवारें क्षतिग्रस्त होंती हैं और न मकान के प्लास्टर ही टूटते हैं। इस कार्य मे 15 मजदूर व कारीगर लगाए गए हैं। वहीं मकान को स्थानांतरित करने में 100 से¨ सिफ्टिंग व 200 लिफ्टिंग जग लगे हैं। मकान ऊपर व नीचे भी रखे जा सकते हैं। पूरे मकान को जैक व बेयरिंग के सहारे खिसकाया जाता है। कई मंजिला व लंबे-चौड़े मकान को भी उठाकर दूसरे स्थान पर रखा जा सकता है। अब फोर लेन के लिए अधिग्रहित मकानों की शिफ्टिंग के लिए दूसरे मकान मालिक भी कंपनी के संपर्क में हैं।

यह भी पढ़ें–…और गुस्से में थे वकील

यह भी पढ़ें–…जब ‘द्रोणाचार्य’ से साक्षात हुआ शिष्य

संबंधित ख़बरें...