नीरज शेखर फिर पड़े सब पर भारी, बलिया सीट के लिए पक्की दावेदारी

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गाजीपुर। सपा में बलिया संसदीय सीट को लेकर अधिकृत रूप से अभी कोई घोषणा नहीं हुई है, लेकिन शुक्रवार की दोपहर मिली खबर के मुताबिक पार्टी ने पूर्व प्रधानमंत्री स्‍व. चंद्रशेखर के बेटे और राज्‍यसभा सदस्‍य नीरज शेखर पर ही दांव लगाने का फैसला कर चुकी है। इस आशय की घोषणा पार्टी संरक्षक और पूर्व मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव के अचानक अस्‍वस्‍थ होने के कारण फिलहाल रूक गई है। वैसे पार्टी के शीर्ष नेतृत्‍व ने नीरज शेखर को हरी झंडी दे दी है। इस सिलसिले में गाजीपुर आजकल डॉट कॉम ने नीरज शेखर से फोन पर संपर्क की कोशिश की, लेकिन उन्‍होंने फोन रिसीव नहीं किया। इसी क्रम में टिकट के सिलसिले में लखनऊ में डेरा डाले उनके एक अति करीबी ने बताया कि सुबह राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ने बलिया के सभी दावेदारों को बुलाया था और नीरज शेखर पर अपनी सहमति जता दिए। सोशल मीडिया पर चल रही चर्चा भी नीरज शेखर के उस करीबी की बात को बल दे रहा है। चर्चा है कि नीरज शेखर नामांकन के अंतिम दिन 29 अप्रैल को अपना पर्चा दाखिल करेंगे। उसके पूर्व वह अपने पैतृक आवास बलिया के इब्राहिम पट्टी स्थित कुल देवता का दर्शन-पूजन करेंगे। उनके नामांकन के मौके पर अखिलेश यादव के परिवार के सदस्‍य एवं बदायूं के निवर्तमान सांसद धर्मेंद्र यादव भी मौजूद रहेंगे। मालूम हो कि बलिया संसदीय सीट पर सपा के उम्‍मीदवार की घोषणा के इंतजार में कांग्रेस को भी है। वह अभी तक अपना पत्‍ता नहीं खोली है। सपा में बलिया सीट के लिए दावेदारों की लंबी सूची के कारण ही उम्‍मीदवार की घोषणा में देर हुई है। इन दावेदारों में पार्टी के बलिया जिलाध्‍यक्ष संग्राम यादव, पूर्व सांसद रमाशंकर विद्यार्थी, राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता राजीव राय, पूर्व विधायक द्वय जयप्रकाश अंचल व सनातन पांडेय आदि प्रमुख हैं। बल्कि इनमें कुछ ने जमानत राशि जमा कर नामांकन पत्र भी खरीद चुके हैं। नीरज शेखर के लिए पार्टी में टिकट के एक मात्र प्रभावी पैरवीकार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी बताए जा रहे हैं। एक अन्‍य खबर मिली है कि पार्टी सुप्रीमो ने सभी दावेदारों को बुलाकर उनकी पसंद के उम्‍मीदवारों के नाम लिखित में देने को कहा। उसके बाद वह चुनावी सभा करने झांसी चले गए। उन दावेदारों से उनकी ओर से सुझाए गए नाम अखिलेश यादव की नामौजूदगी में उनके निजी सहायक आरएस यादव ने प्राप्‍त किए।

यह भी पढ़ें- मनोज सिन्हा का कैसा रहा रोड शो

यह भी पढ़ें- मनोज सिन्हा की तैयारी ऐसी

संबंधित ख़बरें...