…तब बलिया में नामांकन के अंतिम दिन सपा का उठेगा पर्दा!

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गाजीपुर। बलिया संसदीय क्षेत्र में सपा-बसपा गठबंधन की उम्‍मीदवारी को लेकर रविवार की देर शाम भी सस्‍पेंस बना रहा। पूरे दिन सोशल मीडिया पर खबरें चलती रहीं कि सपा मुखिया ने राज्‍यसभा सदस्‍य नीरज शेखर की जगह उनकी पत्‍नी डॉ. सुषमा शेखर के नाम पर अपनी सहमति दे दी है। सोशल मीडिया की खबरों में बकायदा डॉ. सुषमा शेखर की फोटो भी चस्‍पा की जाती रही, लेकिन उसके बाद माउथ मीडिया में खबर चलने लगी कि नीरज शेखर खुद लड़ने की बात पर अड़ गए हैं। लिहाजा सपा मुखिया अखिलेश यादव ने पूर्व विधायक सनातन पांडेय को हरी झंडी दे दी है। हालांकि इन खबरों की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई। कहा जा रहा है कि रात तक सपा मुखिया अखिलेश यादव बलिया सीट के लिए उम्‍मीदवार की घोषणा कर देंगे। बहरहाल अब तय है कि सपा उम्‍मीदवार का चेहरा नामांकन के अंतिम दिन 29 अप्रैल को सामने आ जाएगा। बलिया से मिली खबर के मुताबिक सपा में टिकट के लगभग सभी दावेदार नामांकन पत्र सहित सारी कागजी तैयारी करा चुके हैं। वैसे खबरों पर गौर किया जाए तो दो बातें उभरकर सामने आ रही हैं। एक सपा मुखिया अखिलेश यादव के यहां नीरज शेखर की पकड़ ठीक से बनी हुई है। दूसरे अखिलेश यादव बलिया सीट पर किसी अगड़ी जाति के उम्‍मीदवार को ही टिकट देने का मन बनाए हैं। रही बात नीरज शेखर को टिकट नहीं देने की तो इसके पीछे बताया जा रहा है कि अखिलेश यादव ने पहले ही तय कर लिया था कि पार्टी के किसी भी राज्‍यसभा सदस्‍य को व‍ह लोकसभा चुनाव लड़ने का मौका नहीं देंगे। सपा-बसपा गठबंधन के तहत बलिया सीट सपा के खाते में है। अब तक के सारे घटनाक्रमों से लगता है कि बलिया संसदीय क्षेत्र के सपा समर्थकों, कार्यकर्ताओं को अपने उम्‍मीदवार के लिए अभी और कुछ घंटे इंतजार करना पड़ सकता है। मालूम हो कि बलिया संसदीय सीट के दायरे में गाजीपुर के दो विधानसभा क्षेत्र मुहम्‍मदाबाद तथा जहूराबाद आता है।

यह भी पढ़ें- ऐसा! अफजाल के खिलाफ शिवपाल का बंदा

यह भी पढ़ें- ..और मनोज सिन्हा बोले

संबंधित ख़बरें...