नए बीडीओ की तैनाती को लेकर भड़के ग्राम प्रधान, सांसद ने की डीएम से बात

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

बाराचवर। नए बीडीओ की तैनाती को लेकर गुस्साए बीडीसी सदस्यों व ग्राम प्रधानों ने गुरुवार को ब्लाक मुख्यालय में ताला जड़ने के साथ ही प्रदर्शन शुरू कर दिया। बाद में वह भाजपा के वरिष्ठ नेता जितेंद्र नाथ पांडेय की पहल पर प्रदर्शनकारियों की फोन के जरिये सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त से बात हुई।

जितेंद्र नाथ पांडेय के मुताबिक प्रदर्शनकारियों की पूरी बात सुनने के बाद श्री मस्त ने डीएम के बालाजी से साफ कहा कि बीडीसी सदस्यों और ग्राम प्रधानों की भावनाओं का ख्याल कर नए बीडीओ अरुण पांडेय को कार्यभार नहीं सौंपा जाए। डीएम ने आश्वस्त किया कि नए बीडीओ की नियुक्ति का आदेश निरस्त कर दिया जाएगा। भाजपा के वरिष्ठ नेता जितेंद्र नाथ पांडेय ने बताया कि ग्राम प्रधान, बीडीसी सदस्यों का यह भी कहना था कि दूसरे नए बीडीओ के अभाव में निवर्तमान बीडीओ सुशील सिंह को ही यथावत काम करने दिया जाए। डीएम ने यह भी बात मान ली है।

ब्लाक मुख्यालय में ताला जड़ने के साथ ही प्रदर्शन करने वाले ग्राम प्रधानों, बीडीसी सदस्यों में प्रधान संघ के ब्लाक अध्यक्ष वेदप्रकाश यादव व जिला उपाध्यक्ष राघवेंद्र सिंह लालू के अलावा राजेश राय, श्रीप्रकाश राय, अमित सिंह झब्बू, रामअशीष यादव, हिंमाशु राय, कृष्णा सिंह नागा, योगेंद्र चौहान, नईम खां, भीमसेन राजभर, अब्बास जावेद, सुधाकर सिंह, नरेश तिवारी आदि प्रमुख थे। उनका कहना था कि पूर्व में भी अरुण पांडेय बाराचवर के बीडीओ रह चुके हैं। तब उनकी कारस्तानी के चलते ग्राम प्रधान, बीडीसी सदस्य आंदोलन किए थे। यह बात पिछले साल की है। उसके बाद डीएम के बालाजी ने उन्हें हटाया था लेकिन दोबारा उन्हें बाराचवर में नियुक्त करने का कोई औचित्य उनकी समझ से परे है। वह इसे हरगिज बर्दाश्त नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें–अरे! अरुण सिंह यह क्या बोल गए

संबंधित ख़बरें...