नकल माफिया पर करारी चोट, रंगे हाथ केंद्र व्यवस्थापक सहित 14 गिरफ्तार

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गाज़ीपुर। बीटीसी की चल रही परीक्षा में शनिवार की सुबह पहली पाली में प्रशासन ने नकल माफिया के खिलाफ करारा प्रहार किया। जंगीपुर क्षेत्र के परीक्षा केंद्र केदार इंटर कॉलेज, बिलइचिया में औचक छापेमारी कर कई कक्षों में खुलेआम नकल पकड़ी गई। इस सिलसिले में केंद्र व्यवस्थापक और कक्ष निरीक्षकों सहित कुल 14 को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया गया। मौके पर नकल में इस्तेमाल हो रहे चार मोबाइल फोन के अलावा नकल की सुविधा के एवज में वसूले गए कुल साढ़े 75 हजार रुपये भी बरामद हुए। सीडीओ हरिकेश चौरसिया व डॉयट प्राचार्य राकेश सिंह के नेतृत्व वाले सचल दस्ते को यह बड़ी कामयाबी मिली।

केंद्र व्यवस्थापक जगरनाथ सिंह यादव केदार इंटर कॉलेज के प्राधानाचार्य हैं। उनके साथ पकड़े गए  कक्ष निरिक्षक अजित कुमार, करन यादव, अनिल कुमार, पंकज शर्मा, छोटे लाल तथा मनोज कुमार भी केदार इंटर कॉलेज के शिक्षक हैं, जबकि शशिकांत श्रीवास्तव इसी स्कूल का कलर्क है। इनके अलावा पकड़े गए अन्य कक्ष निरीक्षकों में अनिल कुमार प्रजापति, अनिल कुमार, मुन्ना राजभर, मुन्ना सिंह यादव तथा  महेश चंद्र भारती बगल के ही आजाद इंटर कालेज बैरक के शिक्षक बताए गए हैं।

उनके खिलाफ परीक्षा केंद्र पर तैनात स्टेटिक मजिस्ट्रेट डॉ.राघवेंद्र पांडेय की तहरीर पर जंगीपुर थाने में नकल और भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। लगभग तय है कि वह सभी जेल जाएंगे। इस बाबत चर्चा में डॉयट प्राचार्य राकेश सिंह ने बताया कि परीक्षा केंद्र पर नकल का काम सुनियोजित तरीके से चल रहा था। बाहर से हल कराए गए प्रश्नपत्र वाट्सएप पर मंगा लिए गए थे और हर कक्ष में हल प्रश्नपत्र को बोला जा रहा था।

पूछताछ में परीक्षा केंद्र के कलर्क शशिकांत श्रीवास्तव ने खुद के पास से मिली नकदी के संबंध में बताया कि वह केंद्र व्यवस्थापक के कहने पर नकल सुविधा मुहैया कराने के एवज में परीक्षार्थियों से रुपये वसूला था। बीटीसी के सत्र 2017 के तीसरे सेमेस्टर के विज्ञान की परीक्षा थी। डॉयट प्राचार्य राकेश सिंह ने बताया कि परीक्षा केंद्र से संबंधित विद्यालय की मान्यता रद करने की सिफारिश की जाएगी। परीक्षा केंद्र की परीक्षा निरस्त के सवाल पर डॉयट प्रचार्य ने कहा कि इस सिलसिले में डीएम के अगले आदेश के मुताबिक कार्रवाई होगी।