बढ़ रहा गंगा का पानी, तटवर्ती चिंतित

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गाजीपुर। गंगा नदी के बढ़ते जल स्तर से तटवर्ती हिस्से के लोगों की बैचेनी बढ़ गई है। खासकर किसान और पशुपालक चिंतित हो गए हैं। शहर के घाटों की ज्यादातर सीढ़ियां डूबने लगी हैं। सिंचाई विभाग के एक्सईएन

आरके शर्मा के मुताबिक गुरुवार की सुबह आठ बजे गंगा का जलस्तर 56.84 मीटर दर्ज किया गया, जबकि बढ़ने की रफ्तार में कम हुई है। पहले यह रफ्तार प्रति घंटा एक सेंटीमीटर थी, लेकिन घट कर प्रति घंटा आधा सेंटीमीटर हो गई है, लेकिन ऊपर प्रयागराज में गंगा का बढ़ाव जारी है। इस दशा में गाजीपुर में भी उनका पानी यमुना के रास्ते गंगा में आ रहा है। कानपुर गंगा बैराज से भी पानी छोड़ा गया है। गंगा का जल स्तर बढ़ने से तटवर्ती किसानों की चिंता अपनी फसल को लेकर है। वहीं पशुपालक भी चारे के संभावित संकट से चिंतित हैं। गाजीपुर में खतरा का निशान 63.12 मीटर है। उधर गंगा के कटान प्रभावित इलाके के लोग भी कम परेशान नहीं हैं।

यह भी पढ़ें–…और मनोज सिन्हा कहे

संबंधित ख़बरें...