शिक्षकों ने किया सरकार के प्रेरणा एप्प का विरोध, मुख्यमंत्री को भेजे पत्रक

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गाजीपुर। योगी सरकार के एप्प प्रेरणा परिषदीय विद्यालयों के शिक्षकों को कतई पसंद नहीं है। इसे वह अपनी गरिमा और निष्ठा के विपरीत मानते हैं। इस सिलसिले में विशिष्ट बीटीसी शिक्षक वेलफेयर एसोशिएशन की गाजीपुर इकाई का प्रतिनिधिमंडल प्रदेश नेतृत्व के निर्देश पर मंगलवार को डीएम की नामौजूदगी में एसडीएम सदर से मिला और मुख्यमंत्री को १४ सूत्री पत्रक सौंपा।

प्रतिनिधिमंडल का कहना था कि इस ऐप्प से साफ है कि सरकार को शिक्षकों की कार्य निष्ठा पर संदेह है, जबकि शिक्षक ही ऐसे हैं जो अपना कार्य पूरी सत्य निष्ठा के साथ कर रहे हैं। उनसे दबाव बनाकर गैर शैक्षणिक कार्य लिए जा रहे हैं। शिक्षा व्यवस्था में गड़बड़ी के लिए अकेले शिक्षक को ही कसूरवार मानना गलत है। हकीकत यह है कि इसके लिए पूरा सरकारी सिस्टम दोषी है। विद्यालयों की व्यवस्था पर नजर रखने के लिए ग्राम पंचायत से लगायत मंडल स्तर पर अधिकारियों की टीम है। बावजूद ऐप्प की जरूरत क्यों पड़ रही है। ऐप्प की व्यवस्था शिक्षकों पर अतिरिक्त बोझ होगी। वैसे ही जैसे एमडीएम की व्यवस्था। ऐप्प से मासूम बच्चों की निजिता का भी हनन होगा।

प्रतिनिधिमंडल के साथ जिलाध्यक्ष अनंत सिंह,  वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. दुर्गेश प्रताप सिंह, जिला मंत्री प्रमोद उपाध्याय, कोषाध्यक्ष संजय तिवारी,संयुक्त मंत्री आनंद सिंह, ब्लाक अध्यक्ष मनोज सिंह, मोजम्मिल अंसारी, अवधेश यादव, रामबविलास कुशवाहा, महेंद्र यादव, सतीश सिंह, एनायतुल्ला,सुरेंद्र, विजय नारायण यादव, प्रवीण तिवारी,राजेश्वर,अमित,सत्येंद्र, ओमप्रकाश, संजय, राजेश आदि थे।

यह भी पढ़ें–स्कूल प्रबंधक जरूर पढ़ें यह खबर

संबंधित ख़बरें...