खऱडीहा पहुंचीं अलका राय, पुलिस के हाथ लगा ग्राम प्रधान

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

भांवरकोल। खरडीहा गांव में बवाल के तीसरे दिन शुक्रवार की शाम विधायक अलका राय पहुंची और घटनाक्रम की जानकारी लेने के साथ ही ग्राम प्रधान सहित सभी नामजद अभियुक्तों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कराने का ग्रामीणों को भरोसा दीं। इसी बीच खबर मिली है कि ग्राम प्रधान अफ्तखार अंसारी पुलिस के हाथ लग गया है, लेकिन पुलिस कागजी कार्रवाई से पहले इस बाबत कुछ भी बताने को तैयार नहीं है।

खऱडीहा गांव में अपने करीब एक घंटा के प्रवास में अलका राय को ग्रामीणों ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। साथ ही ग्रामीणों ने कहा कि अभियुक्तों के साथ किसी तरह की ढिलाई नहीं होनी चाहिए। उन्हें रासुका में निरुद्ध किया जाए। फरार ग्राम प्रधान और उसके भाई को शीघ्र गिरफ्तार किया जाए। ग्रामीणों ने क्षतिग्रस्त किए गए शिवालय के अरघे और नागनाथ की मरम्मत कराने की भी मांग की। उनका कहना था कि प्रशासन के स्तर से मरम्मत नहीं हुआ तो इसके लिए गांव के श्रद्धालुओं को अनुमति दी जाए। विधायक ने ग्रामीणों को भरोसा दिया कि इसके लिए वह डीएम से बात करेंगी। उधर ग्राम प्रधान अफ्तखार अंसारी की गिरफ्तारी की खबर मिली है। हालांकि इस बाबत एसएचओ भांवरकोल शैलेश यादव पहले तो कुछ भी बताने से मना किया, लेकिन एक सवाल पर वह यह जरूर कहे कि बगैर लिखापढ़ी कुछ भी बताया नहीं जा सकता। वैसे खऱडीहा में पूरे दिन यही चर्चा रही कि ग्राम प्रधान का अभियुक्त भाई फैयाज अंसारी गिरफ्तार हो गया है, लेकिन इसकी पुष्टि कहीं से नहीं हुई।

मालूम हो कि बीते बुधवार की सुबह खरडीहा स्थित इंटर कॉलेज कैंपस में स्थित शिवालय का अरघा और नागनाथ टूटा मिला था। मौके से भागते युवकों में तीन को ग्रामीणों ने पकड़ लिया था। बाद में एक अन्य दो युवकों को भी पकड़ा गया था। इस मामले में ग्रामीण विपिन राय ने पकड़े गए युवकों रियाज, सरोज, मनोज, अमित तथा राजकुमार सहित ग्राम प्रधान व उसके भाई के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई थी। ग्रामीणों का यह भी आरोप था कि अभियुक्तों ने मौके पर पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा भी लगाया था। गनीमत यही रही कि प्रशासन मय फोर्स पहुंच कर हालत पर काबू पा लिया था। एहतियात के तौर पर गांव में पीएसी तैनात है।

यह भी पढ़ें–गाड़ी खरीदनी है तो यह खबर जरूर पढ़ें

संबंधित ख़बरें...