बिजली विभाग की वसूली पर डीएम संतुष्ट

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गाजीपुर। बिजली विभाग के इधर चले वसूली अभियान के सार्थक नतीजे निकले हैं। डीएम के बालाजी इससे संतुष्ट हैं। गुरुवार को राईफल क्लब में कर-करेत्तर समीक्षा बैठक में डीएम ने बिजली विभाग की इस उपलब्धि पर संतोष जताया, लेकिन इस मामले में स्टांप शुल्क, परिवहन, नगर पलिका परिषद, सिंचाई विभाग के काम पर वह असंतोष जताए।
डीएम ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि वह हर माह कार्ययोजना बनाकर अपने लक्ष्य को प्राप्त करें। डीएम ने चेताया कि इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही एवं शिथिलता क्षम्य नहीं होगी। उन्होंने साफ कहा कि राजस्व वसूली के लक्ष्य पूर्ति नहीं करने वाले अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई होगी।

इस मौके पर डीएम ने राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ मासिक स्टाफ बैठक ली। बैठक में लंबित प्रकरण एवं विवादित, दाखिल खारिज, 122बी में विवादित वादों के निस्तारण को कहा। उन्होंने आडिट आपत्ति के संबंध में जानकारी ली।  व्यापार कर, विद्युत देय, परिवहन कर, बैंक देय की लेनदारी की समीक्षा की। निर्देश दिए कि बड़े बकायादारों से वसूली और उनके खिलाफ शासनात्मक कार्रवाई की जाए। कहे कि अधिकारी राजस्व वसूली के कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता में रखें। राजस्व वादों का भी निस्तारण यथाशीघ्र किया जाए। बैठक में एडीएम राजेश कुमार के अलाव सभी एसडीएम, तहसीलदार सहित संबंधित विभागों के जिलास्तरीय अधिकारी भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें–सपाः रामधारी सब पर भारी!

संबंधित ख़बरें...