पत्नी की विदाई नहीं हुई तो युवक ने गढ़ दी अपने अपहरण की कहानी

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गाजीपुर। मायके गई पत्नी की विदाई नहीं हुई तो युवक ने ऐसी कहानी गढ़ दी कि उसके घरवाले, रिश्तेदार सहित पुलिस तक हलकान हो गई। किस्सा गंगा पार सुहवल थाना क्षेत्र के ढढ़नी भानमल राय का है।

युवक विमलेश राम अपनी पत्नी की विदाई कराने के लिए ससुराल डारीडीह गया था, लेकिन उसके ससुर ने फिलहाल विदाई से मना कर दिया। तब विमलेश रविवार को तड़के बाइक से अपने गांव ढढ़नी भानमल राय के लिए निकला। कुछ देर बाद उसने अपने ससुर को फोन कर बताया कि हथियारबंद बदमाश उसका अपहरण कर लिए हैं और उसे चार पहिया से बिहार की ओर ले जा रहे हैं। यह सुनते ही विमलेश की ससुराल में हड़कंप मच गया। बात उसके घर भी पहुंची। वहां भी यह स्थिति हुई।

विमलेश के ससुर ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। फिर तो पुलिस महकमा भी दंग रह गया। सरेराह यह वारदात उसके लिए चौंकाने वाली थी। अपहर्ताओं के संभावित रास्तों पर जगह-जगह वाहनों की चेकिंग शुरू हो गया। उसी बीच क्षेत्र के ही अंधियारा गांव के पास से विमलेश मय बाइक नजर आ गया। पुलिस उसे पकड़ कर सुहवल थाने ले गई। पूछताछ में उसने बताया कि पत्नी की विदाई के लिए वह ससुर पर दबाव बनाना चाहता था। इसी के लिए उसने यह झूठी कहानी बनाई। उसे चेतावनी देकर थाने से छोड़ दिया गया।

यह भी पढ़ें–रामलीलाः रहेगा बदला-बदला रूप