…और ऐसे उस मनहूस दिन को खुशी के दिन में बदल दी पुलिस

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गाजीपुर। जिस दिन उन सभी 41 लोगों का महंगा और पसंदीदा मोबाइल फोन लापता हुआ होगा, उस दिन को वह लोग निश्चित रूप से मनहूस माने होंगे, लेकिन पुलिस ने सोमवार को उनके लिए खुशी का दिन बना दिया। खुद पुलिस कप्तान डॉ.अरविंद चतुर्वेदी ने अपने ऑफिस में उन्हें ससम्मान ऑफिस में बुलाकर वह फोन सौंपा।

जाहिर है कि वह उम्मीद छोड़ चुके थे कि लापता फोन कभी दोबारा उनके हाथों में आएंगे। उनमें तो कई ऐसे थे जो लापता फोन की रपट थाने में इस लिए लिखवा दिए थे कि उनके फोन गलत हाथों में न चले जाएं और उनका इस्तेमाल किन्हीं आपराधिक वारदातों में न हो जाए। पुलिस कप्तान के ऑफिस में अपना फोन लेने पहुंचे लोगों के चेहरे का भाव यह बता रहा था कि वह काफी खुशनसीब हैं। शायद यही वजह थी कि वह सभी बार-बार पुलिस कप्तान के प्रति कृतज्ञता जता रहे थे। पुलिस को यह बड़ी कामयाबी ऐसे ही नहीं मिली। इसके लिए विभाग की सर्विलांस सेल और स्वाट टीम दिन-रात मेहनत की। लापता मोबाइल फोनों के आईएमईआई नंबर के जरिए उनकी लोकेशन ट्रेस किए। फिर फोन को कब्जे में लिए।

पुलिस कप्तान के हाथों जिन लोगों को अपने लापता फोन मिले, उनमें भाजपा के वरिष्ठ नेता रामहित राम जयरामपुर, पहाराजपुर की रहने वाली ग्राम विकास अधिकारी रानी सिंह कुशवाहा दादरा सीखड़ी के निवासी लेखपाल नीलेश यादव, करंडा इंटर कॉलेज के अछयवरनाथ पांडेय व गोसंदेपुर के गोपाल प्रजापति के अलावा दीपक वर्मा नोनहरा, मनोज कुमार चिलार, अली अहमद मंगल बाजार नई बस्ती, रिंकल कुमार खजुरिया पीरनगर, रोहित कुमार राय मिट्ठनपारा, सुभाष सिंह अलीपुर बनगांवा, सुनीता मिश्रा बड़ीबाग, पुष्कर राय महादेवा गोराबाजार, आजाद गोराबाजार, उमेश यादव छोटा महादेवा गोराबाजार, कवलधारी यादव पुलिस लाइन, अरुण कुमार खजूर गांव, प्रवीण कुमार खजूर गांव, दुर्गेश राय जोंगा मुसाहिब, हेमलता राय तलवल, वहीदा खातून कल्याणपुर, ओमप्रकाश कुशवाहा बंवाड़े बंजारीपुर, राधेश्याम यादव फाक्स गंज, प्रदीप कुमार कामपुर फेफना, मुहम्मद कयूम खजुरिया तुलसी सागर, सुभाष जायसवाल सैदपुर, हनुमान सिंह यादव कल्याणपुर, आरिफ खान मुहल्ला लंगाह, अनिल कुमार सेमरा चकफैज, दीपक यादव मोहम्मदपुर, वकील सिंह यादव खालिसपुर करंडा, रामसेवक सिंह यादव सुहवल, मिजाम अहमद टाउन हॉल, सुभाष सिंह अलीपुर बनगांवा, मनोज कुमार यादव सिरगिथा, जुबेरी शमशद गोरा बाजार, रंजीत कुमार वर्मा रुकुंदीपुर, साजिद गोराबाजार, संदीप यादव बंजारीपुर, इंद्रदेव यादव नंदगंज और सुदर्शन यादव निवासी कटरिया धरम्मरपुर शामिल रहे।

पुलिस कप्तान भी इसे बड़ी कामयाबी मानी और उन्होंने अपनी ओर से पुलिस टीम को दस हजार रुपये  नकद ईनाम देने की घोषणा की। पुलिस टीम की अगुवाई स्वाट टीम के इंचार्ज धर्मवीर सिंह ने की।

यह भी पढ़ें–ऐसा! गंगा अभी नहीं थमेंगी

संबंधित ख़बरें...