शिक्षकों का गुस्सा, किया डीआईओएस कार्यालय पर धरना-प्रदर्शन

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गाजीपुर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) की ओर से महावीर इंटर कॉलेज मलिकपुरा के शिक्षक शिव कुमार सिंह का वेतन रोकने, परीक्षाओ में वाह्य केंद्र व्यवस्थापक के रूप में मनमाना ड्यूटी लगाने, अंतिम समय तक बोर्ड परीक्षा केंद्रों में बदलाव, चयन वेतनमान, प्रोन्नति आदि लंबित मांगों को लेकर शनिवार को विकास भवन स्थित जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। शासन-प्रशासन विरोधी नारे लगाए। धरने को संबोधित करते हुए पूर्व एमएलसी डॉ प्रमोद कुमार मिश्र ने कहा कि लंबित मांगों पर कोई सुनवाई नहीं हो रही है।डीआईओएस दफ्तर पर तैनात कर्मचारी बिना सुविधा शुल्क के किसी काम को पूरा नहीं कर रहे हैं। दफ्तर भ्रष्टाचार का पर्याय बन गया है। शिक्षक शिवकुमार सिंह का उत्पीड़न करते हुए बीते एक वर्ष से वेतन रोका गया है। कई दफा इसकी शिकायत की गई है, मगर कोई सुनवाई नहीं हो रही है। जब तक लंबित मांगों को पूरा नहीं किया जाएगा, तब तक शिक्षकों का आंदोलन जारी रहेगा। जोरदार नारेबाजी के बीच प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य और शिक्षक नेता चौधरी दिनेश चंद्र राय ने चेतावनी दी कि यदि शिक्षकों की मांगे पूरी नहीं की गईं तो आंदोलन और तेज किया जाएगा। पूर्व जिलाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह ने कहा कि शिक्षकों की मांगों को पूरा करने के बजाय लटकाया जा रहा। कार्यालय में भ्रष्टाचार का बोलबाला है। समस्याओं के प्रति विभागीय अधिकारी संवेदनहीन हैं। चेताया कि यदि समस्याओं का निस्तारण समयबद्ध नहीं हुआ तो संघ सड़क पर उतरने को बाध्य होगा। जिलाध्यक्ष नारायण उपाध्याय ने चेतावनी देते हुए कहा कि बोर्ड परीक्षा से पूर्व शिक्षक शिवकुमार सिंह के एक वर्ष से रुके वेतन का भुगतान एवं अन्य समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो माध्यमिक शिक्षक संघ 18 फरवरी से आयोजित होने वाले बोर्ड परीक्षा एवं मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार करने को बाध्य होगा। जिसकी जिम्मेदारी उच्चाधिकारियों की होगी। मुख्य वक्ताओं में विवेकानन्द गिरी, रामअवतार यादव, सौरभ पांडेय, डॉ रियाज अहमद, रत्नेश राय, प्रकाश चन्द्र दूबे, विजय श्रीवास्तव, अनिल कुमार राय, तुंगनाथ पाण्डेय, शिवकुमार सिंह, शैलेन्द्र यादव, कैलाश यादव, संतोष पाण्डेय, रविन्द्र नाथ तिवारी, गिरीश राय, श्रीराम सिंह, ईश्वरदेव यादव, कन्हैया गुप्ता, निरहू राम, राकेश मिश्र, उमेश राय, मुरलीधर राय, कपूर चंद गुप्ता, आशुतोष पाण्डेय, डॉ विश्वमोहन सिंह, सियाराम सिंह, रामजी प्रसाद, राजेश सिंह, संतोष राय, सर्वदेव प्रधान, अमरेंद्र सिंह, अवधेश राय, बालेश्वर रॉव, वीरेंद्र राम, हरेंद्र सिंह, उमेश राय, रंग जी सिंह, चन्द्रिका चौबे, कमलेश प्रजापति, अनन्त शंकर प्रधान आदि रहे। कार्यक्रम का संचालन जिला मंत्री राणा प्रताप सिंह ने किया।

संबंधित ख़बरें...